नासा के एस्ट्रोनॉट अंतरिक्ष से धरती पर लौटे, लेकिन चलना भी मुश्किल

SHARES
Share on FacebookShareTweet on TwitterTweet

नासा के एस्ट्रोनॉट अंतरिक्ष से धरती पर लौटे, लेकिन चलना भी मुश्किलफील्ड टेस्ट के दौरान एस्ट्रोनॉट 6 महीने से सालभर तक भौतिक बदलाव और प्रभावों का अध्ययन करने के लिए अंतरिक्ष में रहते हैं

अंतरिक्ष में लंबे वक्त तक रहने के बाद इंसान को मामूली काम करने में भी तकलीफ हो सकती है. अंतरिक्ष में 197 दिन बिताने वाले एस्ट्रोनॉट एजे ड्रू फीउस्टेल ने एक वीडियो शेयर किया है जिसमें उन्हें धरती पर चलने के दौरान संघर्ष करते देखा जा सकता है. उनका यह वीडियो सोशल साइट पर वायरल हो गया है. सोशल मीडिया पर कई लोगों ने उनके जल्दी बेहतरी की उम्मीद जताई है.
वीडियो में उन्होंने दिखाया है कि मामूली दूरी तक पैदल चलने के दौरान भी उन्हें तकलीफ हो रही है. एस्ट्रोनॉट ने ट्वीट किया- वेलकम होम! स्पेस स्टेशन में 197 दिन रहने के बाद 5 अक्टूबर को धरती पर चलना कुछ ऐसा था.. उन्होंने कहा कि उम्मीद है हाल में लौटे क्रू मेंबर्स बेहतर महसूस करेङेगे।
नासा के मुताबिक, एक्सपेडिशन 56 कमांडर ड्रू फीउस्टेल और फ्लाइट इंजीनियर रिकी अर्नोल्ड ने इस साल इंटरनेशनल स्पेस स्टेशन में 6 स्पेसवाक पूरा किया.
अलविदा 2018: विज्ञान की दुनिया के वो रिसर्च और आविष्कार जो रहे सुर्खियों मेंफीउस्टेल ने अंतरिक्ष स्टेशन पर फील्ड टेस्ट में हिस्सा लिया था. एस्ट्रोनॉट 6 महीने से सालभर तक भौतिक बदलाव और प्रभावों का अध्ययन करने के लिए अंतरिक्ष में रहते हैं. धरती पर लौटने के बाद उनके शरीर में भी कई तरह के प्रभाव देखने को मिलते हैं. अंतरिक्ष से धरती पर लौटने के बाद क्रू मेंबर्स को तुरंत मेडिकल सहायता उपलब्ध कराया जाता है.